Fri. Jul 12th, 2024

कुवैत मंगफ़ अग्निकांड पीड़ितों के परिजनों को 15,000 अमेरिकी डॉलर का मुआवज़ा देगा: रिपोर्ट


दुबई/कुवैत शहर, 18 जून (भाषा): कुवैती सरकार दक्षिणी अहमदी प्रांत में लगी विनाशकारी आग के पीड़ितों में से प्रत्येक को 15,000 अमेरिकी डॉलर देगी, जिसमें 46 भारतीयों सहित 50 लोगों की मौत हो गई, एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार। मंगलवार।

कुवैती अधिकारियों के अनुसार, 12 जुलाई को मंगफ शहर में सात मंजिला इमारत में लगी भीषण आग इमारत के भूतल पर गार्ड के कमरे में बिजली के शॉर्ट सर्किट के कारण लगी थी।

यह इमारत 196 प्रवासी श्रमिकों का घर थी, जिनमें अधिकतर भारतीय थे।

अरब टाइम्स अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, कुवैत के अमीर शेख मेशाल अल-अहमद अल-जबर अल-सबा के आदेश पर, पीड़ित परिवारों को 15,000 अमेरिकी डॉलर की मुआवजा राशि मिलेगी।

सरकारी सूत्रों का हवाला देते हुए अखबार ने कहा कि मुआवजे के भुगतान की प्रक्रिया की जाएगी और पीड़ितों के दूतावासों तक पहुंचाई जाएगी।

तीन अन्य मृतक फिलिपिनो थे, और पीड़ितों में से एक की पहचान स्थापित नहीं की गई है।

इसमें कहा गया है कि संबंधित दूतावास यह सुनिश्चित करेंगे कि आग से प्रभावित लोगों के परिवारों को धनराशि वितरित की जाए, प्रक्रिया में तेजी लाई जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि सहायता पीड़ित परिवारों तक तुरंत और कुशलता से पहुंचे।

अखबार ने कहा, “इस वित्तीय सहायता का उद्देश्य इस कठिन समय के दौरान शोक संतप्त परिवारों का समर्थन करना है।”

कुवैत के सरकारी वकील ने घटना की जांच शुरू कर दी है। सरकारी अभियोजक ने एक्स पर कहा, जांच का उद्देश्य घटना के पीछे की परिस्थितियों को उजागर करना है, और किस कारण से घातक आग लगी हो सकती है।

आग की घटना के बाद सुरक्षा और सुरक्षा उपायों में लापरवाही के कारण हत्या और घायल होने के आरोप में एक कुवैती नागरिक और कई विदेशियों को गिरफ्तार किया गया है। पीटीआई जीआरएस एकेजे जीआरएस जीआरएस

(यह कहानी ऑटो-जेनरेटेड सिंडिकेट वायर फीड के हिस्से के रूप में प्रकाशित हुई है। एबीपी लाइव द्वारा शीर्षक या मुख्य भाग में कोई संपादन नहीं किया गया है।)

Related Post

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *